what is gst in hindi explain

GST क्या है ? | what is GST in hindi

GST kya hai : आज हम जानेंगे की GST kya hai ? यह कब लागु हुआ था । GST ke fayde kya hai ? और भी बहुत सी जानकारी हम आपको GST के बारे में देने जा रहे है । हम आपको GST की पूरी जानकारी देंगे और बताएँगे what is GST in hindi . GST kya hai यह जानने के लिए आप हमारी what is GST in hindi की पोस्ट को पूरा पढ़े ताकि आपको GST kya hai इसके बारे में पूरी जानकारी हो जाये।

और पढ़े : केला खाने के फायदे क्या है जाने

अगर आप Market से सामान खरीदते है तो आपने GST के बारे में जरूर सुना होगा लेकिन आपको यह पता नहीं होगा की GST kya है ? तो आज में आपको GST का पूरा ज्ञान देने वाला हु जिससे आपकी Confusion जो GST के बारे में है वह क्लियर हो जाये। और आप GST के बारे में सब लुछ जान जायेंगे .

What is GST? (GST क्या है ?)

what is gst in hindi explain
what is gst return in hindi

दोस्तों GST का Full Form होता है Goods and Service Tax (GST) जो July 1 2017 से पुरे भारत में लागु कर दिया गया है लेकिन अभी भी लोगो को इसके बारे में ज्यादा कुछ पता नहीं है वह सोचते है बस ये tax होता है लेकिन यह किस तरह का Tax होता है बहुत काम लोग जानते है। GST एक Indirect Tax होता है। GST के अंतगर्त बस्तुओ और सेवाओं पर एक समान Tax लगाया जायेगा . राज्यसभा और लोकसभा दोनों में ही GST बिल पास हो गया है। 1 July 2017 से अब हर सेवा और समान पर सिर्फ और सिर्फ एक ही Tax लगेगा यानि वैट, एक्सरसाइज और Service Tax जैसे करों की जगह पर सिर्फ एक ही Tax GST लगेगा।

और पढ़े : गिलोय क्या है और गिलोय खाने से क्या फायदा होता है

GST Bill आने से पहले हम किसी भी Product या Service को लेते समय या खरीदते समय अलग अलग प्रकार के Tax Goverment को Pay करते आयी है।ham GST bill से पहले Goverment को दो तरह का Tax Pay करते आये है Direct Tax और Indirect Tax चलिए जानते है Direct Tax में और Indirect Tax में क्या क्या आते थे ।

Direct TaxIndirect Tax
Income TaxSales Tax
Capital Gains TaxService Tax
Securities Trasaction TaxValue Added Tax
Perquisite TaxCustom duty & Octoroi (On Goods)
Corporate TaxExcise duty

दोस्तों GST BILL से पहले हमें Direct और Indirect Tax से भी कई और Tax देने पड़ते थे जो हम कभी न कभी किसी भी रूप से जरूर भरते थे चाहे कोई सामान खरीदना हो या फिर कोई service लेनी हो अब किसी न किस रूप से कुछ अन्य Tax को भी भरते आये थे जो की कुछ इस प्रकार थे –

NumberTax Name
1Professional Tax
2Dividend distribution Tax
3Municipal Tax
4Entertainment Tax
5Stamp Duty, Registraion fee, Transfer Tax
6Education cess, Surcharge
7Gift Tax
8Wealth Tax
9Toll Tax
10Entry Tax

हम किसी न किस रूप से ऊपर दिए गए Taxes को भी देते आये है . तो भारत सरकार ने इन्ही सभी Taxes को मिलकर एक ही Tax कर दिया जिससे बहुत से लोगो की कामो में आसानी आयी और आम लोगो को सारे Taxes से छुटकारा मिल गया और उन्हें एक ही Tax भरना पद रहा है। तो ये था हमारा GST तो अब आप जान गए होंगे की GST kya hai .

किन उत्पादों पर लागु हुयी है GST ? GST kya hota hai

संबिधान के 122 वे संशोधन के मुताबिक GST सभी तरह की सेवाओं और बस्तुओ/उत्पादों पर लागु होगा . सिर्फ Alchohol यानि की शराब इस Tax से बाहर होगी। GST bill लागु होने से किसी भी बस्तु पर केव्कल एक ही बार Tax लगेगा और वो भी Product की MRP पर , वो भी 17-20 प्रतिशत पर आ जाने की संभावना है। इससे पहले जो Tax लगता था वो सब कुल मिलकर 30-40 प्रतिशत का हो जाता था लेकिन GST के वजह से अब 13-17 प्रतिशत ही Tax हमें देना होगा।

कैसे काम करेगा GST? | GST kya hai

कैसे काम करेगा GST : भारत सरकार ने GST के 3 प्रकार बनाये है जो की इस प्रकार है CGST , SGST , IGST यह तीनो GST में क्या अंतर है चलिए हम आपको बताते है । GST अब हर काम के लिए अलग अलग GST लागु होगा और वह कैसे चलिए जानते है ।

CGST : Central goods and service Tax – CGST Tax को central goverment लगाती है और इस GST में हमारे Daily life में इस्तेमाल होने वाली चीजों पर Tax लगाया जाता है।

SGST : State goods and service Tax – SGST Tax तब लागु होता है जब हम अपने State का सामान अपने ही State में खरीदा या बेचा करेंगे तब SGST Tax लागु होगा जो State Goverment की निगरानी में होगी।

IGST : Integrated goods and service Tax – IGST tax तब लागु होगा है जब हम एक State का सामान दूसरे state में खरीदा या बेचा करेंगे। इसको अगर हम आसान भासा में समझे तो एक State से लाया हु सामान दूसरे State में अगर हम बेचते है और कोई खरीदता है तब IGST tax लागु होता है।

हमने आपको GST kya hai यह बताया और GST कैसे काम करता है यह भी आपको बताया चलिए अब जानते है GST कितने प्रतिशत कौनसे तरह के सामान पर लागु होता है।

GST rates के 5 प्रकार : 3 नवंबर 2016 के तहत GST Council के फैसले के अनुशार GST 5 तरह के सामान पर अलग अलग दर से लागु होगा जो की 0% , 5%, 12%, 18%, और 28% होंगे । हर दिन इस्तेमाल होने वाले सामान पर हमको 0% से 5% तक की GST देनी पद सकती है। 12 से 18% GST Normal सामानो पर हमें देने पड़ेंगे और Luxury वाले सामानो के लिए हमें 28% तक की GST देनी पड़ेगी।

GST ka Fayda kya hai ? what is GST in hindi

GST लागु होने से हम सबको सबसे बड़ा फायदा यह है की हमें अब अनेक तरह के Taxes से छुटकारा मिलेगा और हमको Tax भी काम देना पड़ेगा । अगर गौर से सोचे तो GST का बहुत ही बिशेस फायदा हमको मिलने जा रहा है जिसके बारे में हम बिश्तार से जानते है।

सभी राज्यों में सामान की एक कीमत : जैसा की मैंने आपको बताया की सारे Tax को मिलकर GST में बदल गया इसलिए हमें अब हर चीज पर एक ही टैक्स देना है इसलिए हर चीज की कीमत हर State में अब एक ही होगी क्युकी हमें एक ही Tax देना है अब जो की पुरे भारत के लिए समान है इसको अगर हम अच्छे से समझे तो अगर आप Delhi में कोई गाड़ी खरीदते है तो उस गाड़ी की कीमत दूसरे State में भी Delhi के हिसाब से ही होगी।

और पढ़े : UPI id क्या है ? जाने हिंदी में

सामान की कीमत होगी कम : GST लागु होने के बाद Tax का ढांचा पारदर्शी हो गया है जिससे काफी हद तक Tax से होने वाला बिवाद कम हो गे है। Gst के लागु होने के बाद राज्यों को मिलने वाला बैट, मनोरंजन टैक्स, लक्ज़री टैक्स, लाटरी टैक्स, एंट्री टैक्स आदि भी ख़तम हो जायेंगे। GST से पहले हमें जो हम सामान खरीदते थे उस पर 30-40% तक की Tax चुकाना पड़ता था जो की अब घटकर 17-20% हो गयी है।

Company और ब्यापारियों को भी है फायदा : GST लागु होने पर Companies और Business man को भी फायदा हुआ है । सामान एक जगह से दूसरे जगह ले जाने में कोई दिक्कत नहीं होगी , जब सामान बनाने की लागत घटेगी तो सामान सस्ता भी होगा । लेकिन इन सब का असर दिखने में थोड़ा समय लग सकता है।

GST Bill की मुख्या बातें | GST kya hai

  • GST आने के बाद One Nation One Tax System लागु हो गया है।
  • गरीबो कि उपयोग की बस्तुए GST से बहार होंगी .
  • GST के तीन अहम् प्रकार CGST ,SGST और IGST
  • कच्चा बिल और पक्का बिल ब्यबस्था समाप्त हो गयी .
  • GST से छोटा ब्यापारी भी बैंक्स से लोन ले पायेगा.
  • Real time data available होगा.
  • महंगाई दर पर नियंत्रण होगी.
  • Restaurant में खाना खाना सस्ता हो जायेगा.
  • घर में उपयोग होने वाली Electrical goods सस्ते हो गए है. क्यूंकि अब Exice duty तथा Vats दोनों के स्थान पर केवल GST चुकाना है .
  • अब मकान खरीदते वक़्त सिर्फ GST देना पड़ता हैं पहले Service Tax और Vats दोनों ही देने पड़ते थे .
  • किसी भी Manufacturing industry को Exice duty , Sales Tax समेत लगभग १३ से १४ तरह के Tax चुकाने पड़ते थे जिसमे समय और पेशा दोनों ही अधिक लगते थे लेकिन अब GST के जरिये हमारा समय और पैसा दोनों ही बच रहा है .

दोस्तों ये था GST kya hai इसके बारे में जानकारी GST ke fayde क्या है हमने आपको इसके बारे में बहुत अच्छे से आपको बताया है GST के वजह से हमें किन किन Tax से छुटकारा मिला हमने यह भी आपको बताया है साथ ही हमने आपको GST के 3 प्रकार के बारे में बताया और वे तीन प्रकार किस तरह से और किसके अंदर में काम करते है यह भी आपको बताया है। GST कौनसे सामान पर कितने दर से लागु हुआ है इसके बारे में भी थोड़ी बहुत जानकारी आपको दी है । what is GST in hindi हमने आपको समझाया है जिससे आप GST kya hai अपने भासा में समझ पाएंगे।

आशा करते है दोस्तों GST kya hai इसके बारे में हम आपको अच्छे से बता पाए होंगे और आपका GST से related Confusion भी दूर हो गया होगा अगर आपको अभी भी GST kya hai और what is GST इसके बारे में कोई Dought है तो हमें Comment जरूर करे हम आपको what is GST in hindi बताएँगे।

Hindihub

Hello friends my name is Chandan Kumar and I welcome you Hindihub.in . I know a good amount of information about indian culture and hindi and I also have many blogs in hindi, so I have opened this blog because I am very fond of writing, so I thought to tell the whole world about Hindi. And that’s how we started this blog.

6 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *