TRP ke baare me puri jankari

TRP क्या होता है ? TRP की पूरी जानकारी

TRP क्या है ? अगर आप टीबी देखते है तो आपने एक शब्द बहुत बार सुना होगा चाहे वो कोई न्यूज़ चैनल हो या फिर कोई रियलिटी शो हो। खसकर बिग्ग बॉस शो में सलमान खान हर वीकेंड में ये बताते रहते है की हमारे शो की TRP सबसे ज्यादा मिल रही है। तो ये सुनकर बहुत से लोगो के दिमाग में जरूर ये ख्याल आता होगा की आखिर ये TRP होता क्या है।

TRP ke baare me puri jankari
TRP ke baare me jane

TRP क्या होता है ?

दोस्तों TRP का पूरा मतलब होता है Television rating point इससे किसी भी चैनल की रेटिंग्स पता चलती है की कौनसा शो कौनसे चैनल पर सबसे ज्यादा देखा जाता है। भारत में चल रहे सभी चैनल की रेटिंग्स जानने के लिए एक खास तरह की मीटर कुछ चुनिंदा घरो में लगाया जाता है जिससे ये पता चलता है की उस एरिया में सबसे ज्यादा कोनसी शो या कोनसा चैनल देखा जा रहा है। ये मीटर का नाम People meter होता है और ये मीटर शहरी इलाको के कुछ घरो में लगे जाता है

और पढ़े : शौचालय के लिए ऑनलाइन आवेदन कैसे करे

TRP का पता कैसे लगाया जाता है ?

TRP क्या होता है ? अब आप जान गए होंगे साथ ही आप ये जानना चाहते होंगे की TRP का पता कैसे लगाया जाता है ! दोस्तों कुछ दिन पहले आप हर चैनल पर एक ही एड्स देख रहे होंगे की सेटटॉप बॉक्स लगाए क्यों की सेटटॉप बॉक्स से TRP का सही तरीके से पता लगाया जा सकता है। TRP पता करने के लिए People meter जिन घरो में लगाया जाता है तब ये मीटर अपने आस पास के सभी घरो के सेटटॉप नॉक्स से कनेक्ट हो जाता है और ये डिटेक्ट करता रहता है कौनसे घर में कौनसा शो कितने देर तक देखा जा रहा है।

और पढ़े : Tamilrockers new website link

और सेटटॉप बॉक्स कलेक्ट की गयी जानकारी को अपने Monitering team को भेजती है जिससे मोनेटरिंग टीम ये डीडे करती है की कौनसा शो कितने समय तक और कितने लोग देख रहे है इससे वो ये निर्णय लेते है की कौनसा चैनल सबसे ज्यादा देखा जा रहा है। और इस तरह से TRP निकला जाता है।

TRP का क्या फायदा होता है ?

TRP से चैनल्स की कमाई होती है। अगर किसी चैनल की TRP अच्छी है तो उस चैनल पर बड़ी बड़ी कंपनी के एड्स आएँगी और बड़ी बड़ी कंपनी बहुत ही पैसे देकर अपना प्रमोशन करती है। हम जब टीबी देखते है हर चैनल पर कुछ देर में एड्स आती है जिसे हम देखे या नहीं देखे लेकिन उनसे चैनल की इनकम हो जाती है।

और पढ़े : Snaptube अप्प डाउनलोड कैसे करे

बड़ी बड़ी कंपनी का एक ही मकसद होता है अपनी चीज का प्रमोशन बहुत सारी ऑडियंस तक पहुंचना इसलिए बड़ी कंपनी अच्छी TRP वाली चैनल्स को चुनती है और अच्छे पैसे देकर अपना प्रमोशन करवाती है। आप खुद से भी ये अनुमान लगा सकते है की इस चैनल ने इस एड्स को दिखने के कितने पैसे लिए होंगे। इसके लिए आप किसी भी चैनल की TRP को गूगल करके देख सकते है।

और पढ़े : भारत में कुल कितने राज्य है

चैनल की TRP से ये पता चल जायेगा की ये चैनल प्रति सेकण्ड्स कितने रूपए ले रही है एड्स को दिखने के। इस तरह से हम पता कर सकते है की कोई एड्स अगर 1 मिनट का है तो जिस चैनल पर एड्स आ रही है उसकी TRP के हिसाब से हम गुना करके पता लगा सकते है।

मेरे हिसाब से अब आपको पता चल गया होगा की TRP क्या होता है और TRP का पता कैसे लगाया जाता है। अब अप्पके मन में कोई सवाल नहीं उठेगा की TRP क्या होता है। साथ ही आप ये भी जान गए की चैनल की कमाई कैसे होती है।

Hindihub

Hello friends my name is Chandan Kumar and I welcome you Hindihub.in . I know a good amount of information about indian culture and hindi and I also have many blogs in hindi, so I have opened this blog because I am very fond of writing, so I thought to tell the whole world about Hindi. And that’s how we started this blog.

3 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *