IP Address kya hota hai?

IP Address क्या होता है ? What is IP Address (Hindi)

IP Adress क्या होता है ? Internet के बारे में कौन नहीं जनता है और आज सबने IP address के बारे में जरूर सुना होगा लेकिन बहुत सरे लोग ऐसे है जिनको ये नहीं पता है की IP अड्रेस क्या होता है ? तो आज हम इसी पर चर्चा करने बाले है और आपको बताएँगे की IP अड्रेस क्या होता है। हम आज के इस article में जानने वाले है की IP address क्या होता है और IP address के कितने प्रकार होते है ? और हम IP Address को किस तरह से खोज सकते है ? साथ ही हम यह भी बताएँगे की IP Address का काम क्या होता है ?

और पढ़े : Internet क्या है ? Internet का मालिक कौन है ?

IP address को समझने के लिए मई आपको असल जिंदगी की बारे में बताता हु ताकि आप बेहतर समझ पाएंगे । हम अगर online कुछ shopping करते है तो हमें अपना Address देना पड़ता है जिससे Delivery boy हमारे घर तक पहुंच सके और हमें Order किया गया सामन दे सके। ठीक इसी तरह IP Address काम करता है। चलिए बिस्तर में समझते है।

IP Address क्या होता है ?

IP Address kya hota hai?
IP Address kya hai ?

हमने ऊपर ये समझा की हम किस तरह से अपना address देते है किसी चीज को अपने घर तक लेन के लिए ठीक इसी तरह IP Address भी काम करता है । IP Address हमें दूसरे computers से connect करता है जिससे उस computer में available डाटा को हम ले सके। अगर आप youtube पर कोई video देख रहे है तो वो वीडियो भी Youtube के Server पर Upload है जो की एक Computer ही है और आप उस Computer से अपने Computer/Mobile तक वो वीडियो को लेके आ रहे हो जो की IP address ही करता है क्यूंकि हर एक computer की IP address diffrent होती है और हम इसी तरह से IP address के जरिये एक Computer से दूसरी Computer तक data को share करते है।

IP Address कितने प्रकार के होते है ?

दोस्तों IP Address कुल 4 प्रकार के होते है –

  1. Public ip address
  2. Private ip address
  3. Static ip address
  4. Dynamic ip adress

Public IP Address क्या होता है ? : Public IP Address Network के बहार communicate करते है। जैसे आप Google पर कुछ search करते है तब Public IP Address काम में आता है और ये आपका ISP ( Internet Service Provider ) तय करता है। और इस IP Address को आपकी Network company ही मैनेज करती है।

और पढ़े : Gmail और Email में क्या अंतर है ?

Private IP Address क्या होता है ? : Private IP Address से हम Locally कुछ computers से data शेयर करते है आसान भासा में अगर समझौ तो आपने कभी Share it या फिर Xender app से एक device से दूसरे device में डाटा शेयर किया होगा इसी चीज को Private IP Address कहते है जिसे आप मैनेज करते हो और इस IP Address में कोई आपके Computer की data को publically नहीं ले सकता है।

Static IP Address क्या होता है ? यह IP Address कभी बदलता नहीं है और आपको ये IP Address आपके Network Company की तरफ से मिलती है इस IP Address को आप बदल नहीं सकते है ! आसान भासा में अगर बताये तो हम जब कोई SIM Card खरीदते है तब हमको एक IP Address साथ में मिल जाता है और जब दूसरा sim लेते है तो हमारा IP फिर से बदल जाता है।

Dynamic IP Address  क्या होता है ? : यह IP Address बार बार बदलते रहते है आप जब भी किसी Public Wifi से कनेक्ट होते हो तो आपको एक IP address मिलती है जो की Wifi से Disconnect होते ही बदल जाती है। और जब आप फिर से Connect करते हो तो आपको फिर नई IP Address मिलती है।

और पढ़े : इंस्टाग्राम पर Followers कैसे बढ़ाये ?

मेरे ख्याल से अब आप IP Address के बारे में बहुत कुछ जान चुके होंगे और IP Address के सभी प्रकार आपको समझ आ गया होगा। आपके मन में ये ख्याल जरूर आता होगा की हर एक के लिए IP Address डिफरेंट कैसे हो सकता hai? चलिए मई आपको बतात हु।

IPV4 और IPV6 IP Address क्या होता है ?

IP Address के दो Version है । पहले internet IPV4 पर काम करता था लेकिन जैसे जैसे internet का उपयोग बढ़ने लगा Devices ज्यादा हो गए तो 8 अंक के नंबर में सभी को Diffrent IP बनाकर देना मुश्किल हो गया और तभी IPV6 IP Address आया और इस IP Address में Number , Alphabets , Special characters होते है जिसे अब हम हर किसीको Diffrent IP Address दे सकते है।

IPV4 IP Address : यह IP Address 8 अंक के नंबर का होता है जिसे 4 बिभाग में बता जाता है Point का इस्तेमाल करके। और यह 32 bit का होता है। इस IP Address में हर एक बिभाग 0-255 तक होता है और हर एक बिभाग 8bits का होता है।

Example : 123.12.123.1

IPV6 IP Address : यह IP Address internet protocol का छठा Version है और यह 128Bits का होता है इसमें Number , Alphabets , Special characters होते है जिससे हर किसीको Diffrent और Unique IP Address मिलता hai.

IP Address से हो सकती है hacking : IP Address के जरिये कोई भी hacker आपके Computer को hack कर सकता है क्युकी हमने आपको बताया की Computers से data शेयर करने के लिए हमें IP Address की जरुरत पड़ती है और यह हर एक Computer के अलग अलग होता है तो ध्यान रहे की IP Address अपना Publically शेयर न करे । यही कारन है की लोग VPN का इस्तेमाल करते है।

IP Address के बारे में आप अब बहुत कुछ जान चुके है और हमने कोशिस की है आपको अति सरल भासा में समझने की और आशा करते है की अब आप समझ गए होने की IP Address क्या होता है ? और यह IP Address काम कैसे करते है। हमने साथ ही आपको यह भी बताया की IP Address के कितने प्रकार होते है !

Hindihub

Hello friends my name is Chandan Kumar and I welcome you Hindihub.in . I know a good amount of information about indian culture and hindi and I also have many blogs in hindi, so I have opened this blog because I am very fond of writing, so I thought to tell the whole world about Hindi. And that’s how we started this blog.

4 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *